महासर धाम – यहाँ महामाई सबके दुःख हर लेती है और खुशियों से झोली भर देती है

महासर धाम हरियाणा मे नारनौल से १६ किलोमीटर  दूर अटेली मंडी के पास एक गाँव मे है| इस गाँव को महासर माँ का गाँव भी कहा जाता है क्योकि महासर माता यहाँ विराजमान है|

महासर माँ हिंदुस्तान मे रहने वाले काफी लोगो की कुलदेवी है और उनलोगो मे से मै – दीपक गुप्ता – नारनौल से – भी एक हूँ| माता महासर के ये भक्त लोग हिंदुस्तान के कोने कोने मे बसे हुए है जैसे की दिल्ली, नॉएडा, फरीदाबाद , गुजरात, कोलकाता, पंजाब, गुडगाँव, तथा और भी कई जगह|

भक्तो का मानना है की वो कही भी रहे महासर माँ हमेशा उनके साथ रहती है और उन्हें हमेशा सही रास्ता दिखती है| दुःख के समय मे सहयोग करती है और सारे दुखो को हर लेती है लेकिन साथ ही साथ सुख के समय मे भी अपने भक्तो का पूरा ध्यान रखती है महासर माँ|

भक्तो का कहना है की यहाँ माता के दर्शन मात्र से ही उनके दुःख दर्द दूर होने शुरू हो जाते है| भक्त दूर दूर से यहाँ आते है और अपनी मुरादे पूरी करके जाते है|

आइए देखते है महासर माता के मंदिर के कुछ चित्र और माता के दर्शन करके खुद को खुसनसीब बनाये
बोलो महासर माता की जय|

रोज माता माँ जैकारा लगाने मात्र से ही आपके दुखो का नाश होने लगता है तो बोलो महासर माँ की जय|

माता जी का मंदिर जहाँ माता महासर विराजमान है

माता जी की जोत के दर्शन कर लो भक्तो

एक भक्त के यहाँ माता जी का दरबार

7 thoughts on “महासर धाम – यहाँ महामाई सबके दुःख हर लेती है और खुशियों से झोली भर देती है

  1. Vikram sharma

    महासर माता का मंदिर 900साल पुराना हे यंहा साल मे दो बार माता जी का मेला लगता हे शुक्ल पक्ष की प्रत्येक सप्तमी को माता जी का मेला लगता हे । माता मंदिर में जो बरगद का पेड़ हे वो भी 900 साल पुराना हे माता जी ने अपनी छत स्वयं ही बनाई थी जय माता दी ।

    Reply
  2. गौरव गोयल

    भाई जी माता का पीछे का पूरा इतिहास मिल सकता है क्या और कौन कौन से गोत्र अग्रवाल के आते है।

    Reply

Leave a Reply